Ad

" सोच " अच्छी होनी चाहिए,,, क्योकि नज़र का इलाज़ तो मुमकिन है । पर नजरिये का नही


Post a Comment

0 Comments